बीकानेर। भीलवाड़ा में 22 साल की युवती ने सुसाइड कर लिया। युवती की 3 साल पहले सगाई हुई थी। युवक-युवती में अफेयर था और दोनों पति-पत्नी की तरह रहते थे। शादी के एक महीने पहले युवक के घरवालों ने रिश्ता तोड़ दिया। आरोप है कि उन्होंने 5 लाख रुपए की मांग की थी। रुपए नहीं मिलने पर रिश्ता तोड़ दिया। युवती के पास एक सुसाइड नोट भी मिला है। इसमें ससुराल वालों पर दहेज मांगने का आरोप लगाते हुए उसने रिश्ता नहीं तोड़ने की मिन्नतें भी की। गुरुवार शाम को युवती ने सल्फास की गोलियां खाकर जान दे दी।
10 फरवरी को होनी थी शादी
मामला बीगोद के खटवाड़ा गांव का है। प्रियंका (22) भीलवाड़ा में रहकर पीटीआई की तैयारी कर रही थी। अशीष (24 ) भी भीलवाड़ा में बच्चों को ट्यूशन पढ़ाता था। दोनों में अफेयर था और लिव-इन में थे। 3 साल पहले घरवालों को पता चला तो सगाई करा दी। 10 फरवरी को समाज के सामूहिक विवाह सम्मेलन में शादी होनी थी। घरवालों का आरोप है कि शादी की तैयारियों के लिए प्रियंका के ससुराल वालों ने 5 जनवरी को उसे कपड़े खरीदने भीलवाड़ा बुलाया था। वहां से उसे ससुराल वाले अपने घर ले गए और शादी से इनकार कर दिया। आरोप है कि ससुरालवालों ने प्रियंका से दहेज और 5 लाख रुपए मांगे।
सुसाइड नोट: आपकी सारी बात मान लेंगे
युवती के परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर है, इसीलिए वे सामूहिक विवाह समारोह में शादी कर रहे थे। प्रियंका के शव के पास से सुसाइड नोट भी मिला है। परिवार के लोगों ने बताया कि सुसाइड नोट में रिश्ता नहीं तोड़ने और ससुराल वालों की सभी मांगें धीरे-धीरे पूरा करने की बात लिखी है। सुसाइड नोट में युवती बार-बार शादी न तोड़ने की मिन्नतें कर रही है। परिजनों ने इस संबंध में थाने में ससुराल पक्ष के खिलाफ रिपोर्ट दी है।
घरवालों का आरोप: शादी का झांसा दिया
प्रियंका के घरवालों ने बताया कि आशीष लंबे समय से प्रियंका को शादी का झांसा दे रहा था। दोनों भीलवाड़ा में पति-पत्नी की तरह रहते थे। रिश्ता टूटने के बाद से प्रियंका डिप्रेशन में चली गई। गुरुवार शाम को अपने कमरे में जहर खा लिया और जान दे दी। देर तक जब वह कमरे से बाहर नहीं आई तो घरवालों ने संभाला। प्रियंका अचेत पड़ी थी। उसे अस्पताल ले गए, जहां प्रियंका को मृत घोषित कर दिया। शुक्रवार को प्रियंका का गांव में ही अंतिम संस्कार किया गया

Share.

Leave A Reply