बीकानेर,प्रदेश पुलिस वर्तमान स्थितियों के मद्देनज़र खुद को उसी सांचे में ढालने का प्रयास कर रही है। आमजन में बढ़ते सोशल मीडिया के प्रभाव को ध्यान में रखते हुए सोशल मीडिया पर फोकस कर रही है। पुलिस मुख्यालय ने भी एक आदेश जारी कर हरेक पुलिसकर्मी, पुलिस मित्र, ग्राम रक्षक एवं जनप्रतिनिधियों को पुलिस के अधिकृत एफबी-ट्विटर हैंडल से जोड़ने के निर्देश दिए है। अब पुलिस सोशल मीडिया पर एक्टिव रहेंगी। इसके लिए बकायदा युद्धस्तर पर काम हो रहा है। बीकानेर जिले में पुलिस करीब 27 हजार को सोशल मीडिया के माध्यम से अपने साथ जोड़ चुकी हैं।

पुलिस अधीक्षक योगेश यादव ने बताया कि मुख्यालय ने पुलिस को इको फ्रेंडली बनाने के लिए सोशल मीडिया की मदद ले रही है ताकि अधिकाधिक आमजन पुलिस से जुड़े। पुलिस और आमजन के बीच का व्यवहार सुधरे और विश्वास बढ़े। बीकानेर पुलिस पहले से सोशल मीडिया पर काम कर रही है। बीकानेर पुलिस ने जिलेभर में 900 से अधिक ग्रुप बनाकर करीब 27 हजार लोगों को पुलिस से जोड़ा है। यह काम निरंतर जारी है। जिले में कुल 2453 पुलिसकर्मी हैं, जिसमें से 1851 फेसबुक से जुड़े हुए हैं। 1251 ट्विटर से जुड़े हुए हैं। 8598 बीकानेर पुलिस पेज के फॉलोअर हैं। ट्विटर पर 16622 फॉलोअर है। इंस्टाग्राम पर 853 फॉलोवर्स हैं।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सोशल मीडिया के फेसबुक व ट्विटर पर पुलिसकर्मी व्यस्त रहेंगे, जिससे पुलिस के काम प्रभावित होंगे। पुलिस कर्मचारी इन कामों में व्यस्त होने से कानून व्यवस्था के काम सही ढ़ग से नहीं कर पाएंगे। थानों में कांस्टेबल से लेकर अधिकारी स्तर तक के कामों पर असर पड़ेगा। पुलिस वास्तविक कामों को छोड़ सोशल मीडिया पर ज्यादा ध्यान देगी।

जिले के समस्त पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियों को अधिकृत सोशल एकाउंट एफबी व ट्विटर से जोड़ें
राजस्थान पुलिस के फेसबुक पेज, ट्विटर एकाउंट को लाइक व फॉलो कराएं

राजस्थान पुलिस की ओर से अपलोड की गई पोस्ट को लाइक, शेयर व कमेंट करें
हरेक अधिकारी-कर्मचारी पोस्ट का सदुपयोग करें

सुरक्षा सखी, पुलिस मिश्र, सीएलजी सदस्य को भी फेसबुक,ट्विटर प्रोफाइल से लाइक व फॉलो कराने के लिए प्रेरित करें

मुख्यालय के आदेश के बाद रेंज के सभी पुलिस अधीक्षकों को अपने अधीनस्थ कर्मचारियों को फेसबुक व ट्विटर के अधिकृत पेजों से जोड़ने के लिए कहा गया है। रेंज में अधिकांश कर्मचारी जुड़े हुए हैं और जो नहीं जुड़े हुए हैं उन्हें सप्ताहभर में जोड़कर सूचित करने की हिदायत दी गई है।

ओमप्रकाश, बीकानेर रेंज पुलिस महानिरीक्षक

Share.

Leave A Reply