मेयर व आयुक्त की खीचतान जयपुर पहुंची दोनों चीफ सेक्रेटरी के पास पहुंचे

बीकानेर।नगर निगम की साधारण सभा से लेकर बीते दाे सप्ताह से निगम में मेयर-कमिश्नर के बीच चल हर खींचतान जयपुर चीफ सेक्रटरी तक पहुंच गई है। साेमवार काे दाेनाें ही चीफ सेक्रेटरी से मिले और एक-दूसरे की शिकायत की। मेयर सुशीला कंवर राजपुरोहित ने केन्द्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल काे स्थिति से अवगत कराते हुए आयुक्त के कार्यकलापों की जानकारी दी।

इस पर मेघवाल ने मेयर काे चीफ सेक्रेटरी से मिलने का समय दिलाया। मेयर ने कामकाज, साेशल मीडिया पर टिप्पणी, साधारण सभा की बैठक से लेकर तमाम बिंदुओं की चर्चा कर कमिश्नर के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। मेयर के जाने के बाद कमिश्नर गाेपालराम बिरदा भी चीफ सेक्रेटरी से मिले। उन्हाेंने कहा कि मेयर के पति, ससुर का कामकाज में हस्तक्षेप रहता है।
काम काे लेकर अनावश्यक दबाव बनाया जाता है। दरअसल जिस समय मेयर चीफ सेक्रेटरी के पहुंची उस वक्त कमिश्नर वहीं पर दफ्तर में बैठे थे। मेयर के जाने के तुरंत बात वे चीफ सेक्रेटरी के समक्ष पेश हाे गए। मेयर दाे दिन जयपुर ही रहेंगी।
इस दाैरान वे स्वायत्त शासन सचिव, डीएलबी डायरेक्टर, यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनियां से मिल बीकानेर निगम में चल रही गतिविधियाें की जानकारी देंगी। मेयर ने बताया कि जयपुर में संबंधित सभी अधिकारियाें से मिलकर कमिश्नर की हरकताें की जानकारी दी जाएगी। प्रशासन शहराें के संग अभियान के तहत पट्टाें के फर्जी आंकडे जारी करने की जानकारी चीफ सेक्रेटरी काे दी गई है।
नेता प्रतिपक्ष डोटासरा पीसीसी चीफ को इस्तीफा देने जाएंगी
मेयर के बाद नेता प्रतिपक्ष चेतना डाेटासरा ने भी कमिश्नर की शिकायत लेकर जयपुर जाने की तैयारी की है। उनका कहना है कि जिस तरह से आयुक्त ने पार्षदाें काे बैठक में ना आने पर निलंबित करने की धमकी दी है वह निर्वाचित जनप्रतिनिधियों का अपमान है।
इसलिए सभी पार्षद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष काे ही अपना इस्तीफा साैंपेंगे। डाेटासरा ने कहा कि निगम आयुक्त और मेयर ने मिलकर शहर का विकास राेक दिया। एक-दाे दिन में पार्षदाें के साथ जयपुर जाकर पीसीसी चीफ काे अपना इस्तीफा साैंपेंगे। चेतना ने आयुक्त से साधारण सभा के संबंध में लिखित में जानकारी मांगी है।

Join Whatsapp